Himachal Pradesh Government Schemes List 2022

Himachal Pradesh Government Schemes List

जैसा कि दोस्तों आप जानते हैं हम आपके लिए सरकार की योजनाओं से जुड़ी हुई जानकारी लेकर आते रहते हैं दोस्तों इन सरकारी योजनाओं का धरातल पर अत्यधिक महत्व रहा है हिमाचल प्रदेश राज्य की आर्थिक स्थिति में सुधार करने के लिए राज्य सरकार ने विभिन्न प्रकार की योजनाओं को आरंभ किया है दोस्तों आज हम आपको हिमाचल प्रदेश की सरकारी योजनाओं की संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं हिमाचल प्रदेश राज्य में कौन-कौन सी सरकारी योजनाएं चल रही हैं उन सभी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से देने वाले हैं हिमाचल प्रदेश राज्य की महत्वपूर्ण सरकारी योजनाएं।

  • हिमाचल प्रदेश वृद्धा पेंशन योजना
  • मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना
  • मुख्यमंत्री मधु विकास योजना
  • मेधा प्रोत्साहन योजना
  • बेरोजगारी भत्ता योजना
  • बेटी हैं अनमोल योजना
  • मुख्यमंत्री शहरी आजीविका गारंटी योजना

हिमाचल प्रदेश वृद्धा पेंशन योजना

इस योजना के अंतर्गत 60 वर्ष से अधिक उम्र के परिजनों को 79 वर्ष तक 750 प्रति महीना की दर से मासिक पेंशन आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाती है। तथा 70 वर्ष से अधिक उम्र के जनों को 1300 मासिक पेंशन के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश के वृद्ध जनों को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाना है।

मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना

हिमाचल प्रदेश सीएम स्वाबलंबन योजना / Himachal Pradesh CM Swavalamban Yojana 2022 के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश के नागरिक स्वयं का रोजगार स्थापित कर सकेंगे तथा इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश के युवा बेरोजगार उद्योग सर्विस सेंटर तथा व्यवसाय स्थापित कर सकते हैं इस योजना के माध्यम से उन्हें राष्ट्रीय कृत बैंकों / nationalized banks के द्वारा लोन उपलब्ध कराया जाएगा तथा राज्य सरकार के द्वारा इस ऋण पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी हिमाचल प्रदेश के नागरिकों को स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए 25 से 35 परसेंट की सब्सिडी प्रदान की जाएगी इस योजना के द्वारा हिमाचल प्रदेश राज्य के बेरोजगार युवाओं के लिए 40 लाख  से लेकर 60 लाख  रुपए तक का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा इस ऋण पर 3 साल के ब्याज में 5% की छूट भी दी जाएगी इस योजना के माध्यम से व्यवसायियों को भूमि भी प्रदान की जाएगी लाभार्थी को 5 से 7 साल के बीच प्राप्त किए गए ऋण की राशि वापस करनी होगी तथा इस योजना का आवेदन ऑनलाइन कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री मधु विकास योजना

इस योजना के अंतर्गत पालन के स्तर को बढ़ाने के लिए राज्य सरकार ने बागवानी किसानो को 80% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश के किसानों को रोजगार से जोड़ा जाएगा एवं इनके आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
हिमाचल राज्य में 300 मधुमक्खी उपनिवेश ओं को 3 लाख की आर्थिक सहायता प्रदान / Provided financial assistance of 3 lakhs to 300 bee colonies in the state of Himachal की जाएगी तथा प्रतिवर्ष मधुमक्खी पालन से जुड़े हुए नागरिकों को 5 दिन का प्रशिक्षण दिया जाएगा जिसमें उन्हें मखदूम मधुमक्खी उत्पादन से जुड़े क्षेत्रों की जानकारी प्रदान की जाएगी तथा शिविर में प्रशिक्षण के दौरान उन्हें प्रतिदिन400 रुपये प्रति किसान को प्रशिक्षण के दौरान दिए जाएंगे। इस योजना का मुख्य उद्देश्य हिमाचल राज्य के छोटे तथा सीमांत किसानों को मधुमक्खी पालन के लिए प्रोत्साहित करके उनकी आय को बढ़ाना है।

मेधा प्रोत्साहन योजना

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना / Himachal Pradesh Medha Protsahan Yojana के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश सरकार के द्वारा बारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए द्वारा आयोजित कोचिंग के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। तथा स्कूल कॉलेज में छात्रों को 100000 तक की सहायता प्रदान करने के लिए एडवांस शिक्षा के लिए विशेषज्ञ की तैयारी के लिए प्रोत्साहन योजना को शुरू किया गया है इस योजना के अंतर्गत इंटरमीडिएट स्तर के 350 विद्यार्थियों को तथा स्नातक स्तर के 150 विद्यार्थियों को उनकी योग्यता के आधार पर चयनित किया जाएगा इस योजना के अंतर्गत उच्चतर शिक्षा विभाग हिमाचल प्रदेश  / Himachal Pradesh राज्य सरकार द्वारा राज्य तथा राज्य के बाहर संस्थानों में प्रशिक्षण दिया जाएगा इस योजना को आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग तथा विद्यार्थियों की योग्यता के आधार पर इस योजना का लाभ दिया जाएगा इस योजना के अंतर्गत आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले विद्यार्थी प्रशिक्षण के लिए राज्य सरकार द्वारा 100000 रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश राज्य के गरीब परिवार के विद्यार्थी भी उचित शिक्षा ग्रहण कर सकेंगे राज्य का नाम रोशन कर सकेंगे।

बेटी हैं अनमोल योजना

इस योजना की शुरुआत हिमाचल प्रदेश सरकार / Himachal Pradesh Government ने की है। इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा बेटी है अनमोल योजना केंद्र सरकार की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की तर्ज पर आरंभ किया गया है।इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार की बेटियों को शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है हिमाचल प्रदेश में बेटी के जन्म होने पर राज्य सरकार द्वारा 10000 रुपये की छात्रवृत्ति दी जाती है, इसके अलावा बेटियों को पहली कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा तक 300 रुपये से लेकर 12 हजार रुपए तक की आर्थिक सहायता शिक्षा संबंधी सामग्री के लिए प्रदान की जाती है तथा बेटी के 12वीं कक्षा पास करने के उपरांत आगे की उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए 5 हजार रुपये की आर्थिक सहायता भी इस योजना के अंतर्गत प्रदान की जाएगी।इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश की बेटियों को शिक्षा प्राप्त करा कर उन्हें सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाना है।

मुख्यमंत्री शहरी आजीविका गारंटी योजना

हिमाचल प्रदेश राज्य के मजदूरों को कौशल विकास सुविधा के अंतर्गत प्रदान की जाएंगी तथा आप कोई वेबसाइट खोलना चाहते हैं तो उसके लिए व्यवस्था भी प्रदान की जाएगी जिससे राज्य का क्षेत्र का विकास संभव हो सके।इस योजना के अंतर्गत शहर के गरीब बेरोजगार नागरिकों को मनरेगा के अंतर्गत रोजगार प्रदान करके मजदूरों का 120 दिन का रोजगार दिया जाएगा राज्य सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत सफल क्रियान्वयन के लिए कार्य कर रही है। कैबिनेट से मंजूरी प्राप्त करने के बाद बजट को सत्र में लाया जाएगा। इस योजना को हिमाचल प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी के द्वारा आरंभ किया गया है जिसका ड्राफ्ट बिल 7 मार्च 2022 को होने वाली कैबिनेट बैठक में रखा जाना है इस योजना के अंतर्गत युवाओं को 120 दिन का रोजगार प्राप्त हो सकेगा तथा दैनिक मजदूरी 300 रुपये निर्धारित की गई है।प्रदेश के मुख्यमंत्री जी के द्वारा इस योजना में 50 रुपये  प्रति मजदूरी में बढ़ाने की घोषणा भी की गई है अप्रैल 2022 से इस योजना के अंतर्गत 350 रुपये  की मजदूरी मजदूर को प्रदान की जाएगी तथा शहरी विकास योजना के नियम और शर्तों की भी तैयारी की जा रही है शहरी गरीबों को रोजगार गारंटी योजना से जोड़कर प्रदेश सरकार के द्वारा इस योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए 5 करोड़ की राशि भी प्रदान की जाएगी तथा शहरी निकायों से अभी 6200 से युवाओं ने पंजीकरण करवा लिया है तथा और भी युवाओं को रोजगार प्राप्त कराने के अवसर प्रदान किए जाएंगे।

Read More…

conclusion

जैसा कि दोस्तों आप जानते हैं हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से हिमाचल प्रदेश गवर्नमेंट स्कीम की महत्वपूर्ण जानकारी दे दी है दोस्तों हिमाचल प्रदेश के आर्थिक विकास के लिए इन योजनाओं को धरातल पर उतारा गया है इन योजनाओं के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश राज्य के युवाओं का अत्यधिक विकास हुआ है तथा हिमाचल प्रदेश के नागरिकों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए इन योजनाओं को आरंभ किया गया है इन योजनाओं के अंतर्गत हो तो आप कमेंट सेक्शन में जाकर कमेंट कर सकते हैं। जय हिंद

Leave a Comment