November 26, 2022
Jal Jeevan Hariyali Yojana 2022

Jal Jeevan Hariyali Yojana 2022

Jal Jeevan Hariyali Yojana Kya Hai?

जैसा कि दोस्तों आप जानते हैं हम आपके लिए समय-समय पर सरकारी योजनाओं से जुड़ी हुई जानकारी लेकर आते रहते हैं दोस्तों सरकारी योजनाओं का जनजीवन के लिए अत्यधिक महत्व रहा है तो दोस्तों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के विषय में आपको बताने वाले हैं दोस्तों इस योजना का महत्व मानव जीवन पर अत्याधिक होने वाला है यह तो आप जानते हैं जल ही जीवन है जल से मानव जीवन संभव है।

इस योजना की शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 26 अक्टूबर 2019 को की थी / Bihar Chief Minister Nitish Kumar on 26 October 2019। इस योजना के अंतर्गत विहार राज्य में पेड़ों को लगाने का कार्य तथा तालाबों एवं को कब बनाने का कार्य इस योजना में शामिल है इस योजना में कुछ बिंदुओं पर ध्यान केंद्रित किया गया है जैसे तालाब,जहां बरसात का जल जमा होता हो, तथा पौधे लगाना नेहरो का निर्माण आदि इस योजना के अंतर्गत किया जाएगा।

राज्य सरकार / State government किसानों को 75000 रुपये की सब्सिडी / subsidy देगी, जिसमें तालाब कुआं खेती की सिंचाई करने के कार्य शामिल होंगे। राज्य के अनेक विकासखंड जल की कमी के कारण प्रभावित हुए हैं क्योंकि जल का स्तर कई राज्यों में नीचे रहा है । इस योजना की शुरुआत पर्यावरण को संतुलित / moderate रखने के लिए की गई है। क्योंकि प्रकृति / Nature  में जल का स्तर दिन-ब-दिन घटता जा रहा है जिसने जीवन यापन करने में परेशानी होगी। अत्यधिक आविष्कारों के कारण भूमि में जल की मात्रा लगातार गिर रही है पेड़ पौधे ज्यादा मात्रा में काटे जा रहे हैं जिसके कारण पर्यावरण संकट गहरा गया है इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा वृक्षों को लगाना है तथा जल को संचित करके जल की पूर्ति करनी है।

Plants planted in Jal Jeevan Hariyali Yojana NREGA

इस योजना के अंतर्गत नरेगा के माध्यम से पिछले वर्षों में 1 करोड़ से ज्यादा पौधे लगाए गए / More than 1 crore saplings were planted in the last years हैं, और इस वर्ष भी 45 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य है जिसके अंतर्गत कृषि विभाग द्वारा किसानों की परेशानियों को देखते हुए सिंचाई के लिए तालाब / pond for irrigation का निर्माण तथा को कुएं की सफाई आदि पर बल दिया है।जिससे पर्यावरण को संतुलित रखा जा सके इस योजना के विस्तार के लिए बिहार राज्य के ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। इस योजना के अंतर्गत नरेगा की योजनाओं को भी इस योजना से जोड़ा गया है।

Jal Jeevan Hariyali Yojana Purpose

  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण का संतुलन बनाए रखना है।
  • पर्यावरण को महत्व देना तथा जल को बचाना ही इस योजना का मुख्य उद्देश्य रहा है।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के अंतर्गत कृषि को बढ़ावा मिलेगा तथा किसी की उत्पादन क्षमता में बढ़ोतरी होगी।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana का मुख्य उद्देश्य दूषित पर्यावरण के कारण पशु पक्षियों / animals and birds का जीवन नष्ट होने से बचाना है।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य अधिक से अधिक वृक्षों को लगाना है जिसके फलस्वरूप पेड़ों से हमें अधिक से अधिक ऑक्सीजन प्राप्त होगी तथा सांस लेने में किसी को कोई दिक्कत नहीं होगी इस योजना के अंतर्गत किसानों की कमाई में वृद्धि होगी तथा किसान आत्मनिर्भर होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत बारिश के पानी को एकत्र करके रखा जाएगा जिससे वह पानी सिंचाई के कार्य में कामा सकेगा।
  • वृक्षों के अधिक संख्या में लगाने से देश का पर्यावरण शुद्ध होगा तथा अत्यधिक आंधी सूखा जलवायु परिवर्तन से आदि से बचा जा सकेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत तालाबों नहर डैम / ponds canal dam आदि का निर्माण किया जाएगा जिसके अंतर्गत पानी का उचित प्रयोग किया जा सके।
  • योजना का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण को संतुलित बनाए रखना तथा कृषि के लिए जल को उपयुक्त मात्रा में बनाए रखना है।
  • इस योजना के अंतर्गत जल तथा ऑक्सीजन / water and oxygen को केंद्रित किया गया है क्योंकि यह दोनों चीजें हमें पर्यावरण से ही प्राप्त होती हैं यदि हमारे आसपास का पर्यावरण स्वच्छ एवं साफ होगा तो हमें जल एवं ऑक्सीजन मात्रा में प्राप्त हो सकेगी।

Jal Jeevan Hariyali Yojana Benefits

  • इस योजना के तहत उन किसानों को लाभ मिलेगा जो बिहार राज्य में निवास करते हैं।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के  अंतर्गत  पर्वतीय क्षेत्रों में डैम तथा छोटी नदियों का निर्माण किया जाएगा।
  • पर्यावरण संतुलन के लिए 45लाख से ज्यादा  पौधे लगाए जाएंगे।
  • राज्य में निवास करने वाले किसानों को 75500 रुपये की सब्सिडी तालाब कुएं व सिंचाई के कार्य निर्माण / Uses of irrigation for construction of agricultural ponds, wells and irrigation works हेतु उपलब्ध कराई जाएगी।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के  अंतर्गत
  • बरसात के दिनों में बरसात का पानी एकत्र करके रखा जाएगा जो भविष्य में है कृषि की सिंचाई के उपयोग / irrigation use for agriculture में लाया जाएगा।
  • इस योजना का बजट 2022 में 24 हजार करोड रुपए वृक्षारोपण कार्य तालाब / plantation work pond ,नहर, कुएं के कार्यों में खर्च किए जाएंगे।
    इस योजना के अंतर्गत किसानों को तालाब निर्माण कार्य के लिए सरकार द्वारा 90% तक सब्सिडी प्रदान की जाएगी से 10% किसानों को खर्च करना होगा।

Functions of Jal Jeevan Hariyali Yojana

  • इस योजना का मुख्य कार्य राज्य के लोगों को योजना के विषय में अवगत कराना है। जिससे राज्य के सभी नागरिक इस योजना के उद्देश्य को समझ सके तथा पर्यावरण का संतुलन बनाने में अपनी सहभागिता दे सकें।
  • जिन कुए पर लोगों ने अवैध कब्जा कर रखा है उनको कब्जे से मुक्त कराना।
  • राज्य के सार्वजनिक को को पुनर्निर्माण करके तथा मरम्मत करवा के फिर से चालू करना।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के  अंतर्गत तालाबों / ponds का निर्माण कार्य करवाना।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के  अंतर्गत नेहरो / Canal का निर्माण करना।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के  अंतर्गत नदी एवं नालों के पानी को एकत्र / collect water from rivers and streams करके रखना।
  • इस योजना के अंतर्गत जल के नए स्रोतों का निर्माण कार्य करना।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के  अंतर्गत जहां जिन क्षेत्रों में जल की उपलब्धता कम है उन क्षेत्रों में जल की उपलब्धता कराना।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के  अंतर्गतपर्यावरण को संतुलित बनाए रखने के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगवाना।
  • जल जीवन हरियाली योजना / Jal Jeevan Hariyali Yojana के  अंतर्गतभविष्य में होने वाले जल संकट से बचने के लिए जल को संजय करके रखना।

Read More…

conclusion

जैसा कि दोस्तो आप जानते हैं हमने आपको जल जीवन हरियाली योजना बिहार की संपूर्ण जानकारी इस आर्टिकल के माध्यम से दे दी है, तथा दोस्तों इस योजना का जनजीवन में अत्यधिक महत्व रहा है, क्योंकि दोस्तों कोविड-19 / COVID-19 में हमारे देश में लाखों लोगों की जान ऑक्सीजन के कारण चली गई थी, दोस्तों दोस्तों उसका मुख्य कारण हमारे देश की जलवायु परिवर्तन रहा यदि हमारे देश में पेड़ों की संख्या ज्यादा होगी तो ऑक्सीजन भी ज्यादा प्राप्त होगी, दोस्तों ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं जिसे स्वच्छ ऑक्सीजन प्राप्त हो सके। तथा आप जानते ही हैं जल का महत्व हमारे जीवन में कितना है दोस्तों यह तो आप जानते ही हैं कि जल ही जीवन है जल को बचाने की हर मुहिम में सहयोग करें। दोस्तों इस योजना के अंतर्गत आपके मन में कोई प्रश्न हो तो आप कमेंट सेक्शन में जाकर कमेंट कर सकते हैं जय हिंद

2 thoughts on “Jal Jeevan Hariyali Yojana 2022

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *